पूर्व मंत्री के बेटे ने पुलिस पर दिखाई दबंगई

0
466
purva mantri
purva mantri

पूर्व मंत्री के बेटे ने लॉकडाउन का उल्लंघन कर पुलिस जवानों को धमकाया

पूर्व मंत्री के बेटे ने न मास्क लगाया, न हेलमेट

ग्वालियर । पूर्व मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर के बेटे रिपुदमन सिंह का एक वीडियो सामने आया है जिसमे वह पुलिसकर्मियों को हड़का रहा है.

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए पूरे शहर में लॉकडाउन है हर जगह पुलिसबल तैनात है और ऐसे में पुलिस उन लोगों पर कार्रवाही भी कर रही है जो बेवजह और बिना मास्क लगाए बाहर निकल रहे हैं.

ऐसे में पूर्व मंत्री का लड़का रिपुदमन सिंह बिना मास्क लगाए एक्टिवा से घूमता नजर आया.

पुलिस ने जब उसे रोका और लॉकडाउन का हवाला देकर बिना मास्क के घूमने का कारण पूछा तो इतना पूछते ही पूर्व मंत्री के लड़के का पारा सातवे आसमान पर था उसने अपना परिचय देते हुए हड़काना शुरू किया.

एक पुलिसकर्मीं ने वीडियो बनाना शुरू किया तो उससे बोला कि “फोटो खींच रहा है न, तेरा फोटो मैं खिंचा दूँगा”.

जब उसने अपना परिचय दिया तो पुलिसकर्मीं सहमे और बचाव की मुद्रा में आ गए, इस बीच रिपुदमन ने किसी को फोन लगाया और एक पुलिसकर्मीं का नाम लेकर बंगले पर बुलाने के लिए कहा.

करीब 5 मिनट रिपुदमन, पुलिसकर्मियों को हड़काता रहा और पुलिसकर्मीं यह बोलते रहे की हम पहचानते नहीं थे तब भी वह धौंस दिखाता रहा, बाद में मिन्नतों के बाद पुलिसकर्मियों ने उसे मास्क देकर रवाना किया.

पूर्व मंत्री के बेटे की इस हरकत के बाद कांग्रेस ने इसे मुद्दा बनाकर ट्विटर पर पोस्ट किया है वहीं शहर में आम आदमीं यह कह रहे हैं कि अभी न विधायक हैं और न ही मंत्री पद पर हैं तब यह हाल है तो आगे क्या करेंगे?

आपको बता दें कि ग्वालियर विधानसभा में उपचुनाव होना है और प्रधुम्न सिंह तोमर अब भाजपा प्रत्याशी होंगे.

इस पूरे मामले के साथ आपको यह भी जानना चाहिए कि यह वही प्रधुम्न सिंह हैं जो जनसेवा के लिए कभी नाले की सफाई करने खुद नाले में उतर जाया करते थे तो कभी राशन की बोरी को खुद के कंधे पर रख कर उसे स्थान तक रखने चले जाया करते थे.

हालाँकि बाद में इस वीडियो के वायरल होने के बाद माफ़ी माँग ली गई और खुद ही पुलिस के पास जाकर उपयुक्त चलानी कार्रवाही भी करवाई.

ऐसे में एक सवाल और है कि क्या पुलिस द्वारा अब हेलमेट न लगाने की छूट मिल गई है जिस वजह से पुलिस द्वारा सिर्फ मास्क पर ध्यान दिया जा रहा है, क्या अब हेलमेट न लगाना, कानून का उल्लंघन नहीं रहा ?